सभी माता-पिता को हो निमोनिया के प्रारंभिक लक्षण की पहचान, व्यापक प्रचार कर जागरूकता लाएं – कलेक्टर वानखेड़े


आगर -मालवा, 12 नवंबर। निमोनिया एक गंभीर बीमारी है, इससे बच्चों के बचाव के लिए जरूरी है कि बिना देरी के उनका उपचार हो और यह तभी संभव होगा जब सभी माता-पिता में निमोनिया के प्रारंभिक लक्षण की पहचान हो, यहां बात कलेक्टर कैलाश वानखेड़े ने शनिवार को जिला चिकित्सालय आगर में सांस अभियान के शुभारंभ अवसर पर कही। कलेक्टर ने कहा कि सांस अभियान के दौरान जागरूकता गतिविधि आयोजित कर निमोनिया के प्रारंभिक लक्षण का व्यापक प्रचार-प्रसार कर सभी माता-पिता में जागरूकता लाई जाए, जिससे कि निमोनिया से ग्रसित होने पर बच्चों का तुरंत उपचार हो और निमोनिया से होने वाली बाल मृत्यु को भी रोका जा सके।
कलेक्टर ने सांस (सोशल अवेयरनेस एंड एक्शन प्लान टू न्यूट्रेलाइज निमोनिया सक्सेसफुल) अभियान का फीता काटकर शुभारंभ किया। यह अभियान 12 नवंबर से प्रारंभ होकर 28 फरवरी 2023 तक आयोजित होगा। इस अवधि में निमोनिया के प्रति जागरूकता गतिविधि आयोजित कर बच्चों के माता-पिता को जागरूक किया जाएगा।
कलेक्टर ने आगे कहा कि 5 वर्ष से कम उम्र के बच्चों में निमोनिया के लक्षण ज्यादातर होते हैं, इसलिए बच्चों के पूरक पोषण आहार पर विशेष ध्यान रखें तथा संपूर्ण टीकाकरण अवश्य करवाएं। स्वास्थ्य विभाग का महकमा भी अपनी जिम्मेदारी का पूरी ईमानदारी से निर्वहन करते हुए सांस अभियान को सफल बनाएं। उन्होंने कहा कि निमोनिया की बीमारी खासकर ठंड के मौसम में बच्चों में होती है, इसलिए बच्चों को ठंड के मौसम में ऊनी एवं गर्म कपड़े पहना कर रखें। उन्हें ठंड से बचाए।
, कार्यक्रम को संबोधित करते हुए मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डॉ एसएस मालवीय ने सांस अभियान पर विस्तृत प्रकाश डाला। उन्होंने कहा कि अभियान का मुख्य उद्देश्य निमोनिया बीमारी के प्रति जन जागरूकता लाना है। निमोनिया के प्रारंभिक लक्षण बच्चों में निरंतर सर्दी खांसी रहना, तेजी से सांस लेना, सांस लेते समय छाती का नीचे धंसना आदि लक्षण होते है। इस तरह के लक्षण होने पर माता-पिता अपने बच्चों का तुरंत नजदीकी स्वास्थ्य केंद्र पर जाकर उपचार करवाएं, घरेलू उपचार में समय नहीं गंवाए। जिला टीकाकरण अधिकारी डॉ राजेश गुप्ता ने अभियान के बारे में पावर प्रजेंटेशन के माध्यम से विस्तार से जानकारी दी। कार्यक्रम में उपस्थित सभी को निमोनिया एवं एमआर टीकाकरण के संबंध में जागरूकता लाने हेतु शपथ भी दिलाई गई।
इस अवसर पर डॉ. एस.के पालीवाल क्षयरोग विशेषज्ञ, डॉ. आर.एल. मालवीय ई.एन.टी. सर्जन, डॉ. शशांक सक्सेना नेत्र सर्जन, डॉ. जे.सी. परमार शिशुरोग विशेषज्ञ, डॉ. के.के. परमार शल्यक्रिया, डॉ. के.के. सागरिया शिशुरोग विशेषज्ञ, रोगी कल्याण समिति सदस्य सुनील कुमार जैन, डॉ. संदीप नाहटा, डॉ. नरेन्द्रसिंह परिहार, डॉ. मिथुन कुमार गोलदार, डॉ. वैभव बोरासी व जिला कार्यक्रम प्रबंधक राकेश चौहान, आर.बी.एस.के. नोडल मांगुसिंह पंवार, जिला कम्युनिटी मोबीलाईजर राकेश पडीयार अन्य चिकित्सा अधिकारी तथा जिला चिकित्सालय स्टॉफ, आशा कार्यकर्ता उपस्थित रहे। कार्यक्रम का संचालन जिला मिडिया अधिकारी आर.सी. ईरवार द्वारा किया गया एवं आभार डॉ. एस.के. पालीवाल द्वारा माना गया।

Leave A Reply

Your email address will not be published.

कलेक्टर  वानखेड़े ने बाबा बैजनाथ महादेव मंदिर का किया निरीक्षण     |     जनवरी में होगा आनंद उत्सव का आयोजन     |     जिले के सभी विद्यालय सुबह की पाली में 8:30 बजे से संचालित होंगे कलेक्टर वानखेड़े द्वारा आदेश जारी     |     कलेक्टर वानखेड़े सहित अधिकारी- कर्मचारियों ने श्रमदान कर की संयुक्त कलेक्टर कार्यालय परिसर की साफ-सफाई ध्यान एवं योग भी किया     |     संविधान दिवस पर पुलिस अधीक्षक सगर ने बताए बच्चों को (आईएएस आईपीएस ) कलेक्टर एसपी बनने की परीक्षा पास करने के गुर     |     मतदाता बनना हुआ आसान, 8 दिसंबर तक नवीन मतदाता करें आवेदन     |     ऊर्जा साक्षरता रथ महाविद्यालय प्रांगण पहुंचा, विद्यार्थियों को दी ऊर्जा बचत के जानकारी     |     स्वास्थ्य विभाग सभी राष्ट्रीय कार्यक्रमों एवं योजनाओं में लक्ष्यपूर्ति करें – कलेक्टर वानखेड़े जिला स्वास्थ्य समिति की बैठक आयोजित     |     महाविद्यालय में मतदाता जागरूकता कार्यक्रम का हुआ आयोजन     |     डीएफओ ने वन क्षेत्र का किया औचक निरीक्षण     |    

Aagar Live
पत्रकार बंधु भारत के किसी भी क्षेत्र से जुड़ने के लिए इस नम्बर पर सम्पर्क करें- 9907788088